WELCOME

Thursday, September 30, 2010

हिफ़ाज़त करेंगे हम


फ़ैसले के बाद 
                    ठहरे नहीं रहेंगे सदा एक मोड़ पर
               रस्ता नया खुला है संभलकर चलेंगे हम
    जो फ़ैसला दिया है, अदालत ने, ठीक है 
इस फ़ैसले की मिलके हिफ़ाज़त करेंगे हम
 शाहिद मिर्ज़ा शाहिद

23 comments:

kshama said...

Behad sanjeedgee bhara sandesh hai! Aameen! Aisahi ho! Ham sabkee zimmedaaree hai ki, is faislekee izzat karen.Nyayalay ka avmaan na ho.

ज्योति सिंह said...

waah bahut umda khyaal hai aur hum aapke in vicharo ke saath hai .aur swagat karte hai faisle ka ,tatha chahte hai mulk me aman shaanti barkrar rahe .

वन्दना अवस्थी दुबे said...

वाह!!! क्या बात है, बहुत सुन्दर क़ता है शाहिद जी. हम सबकी ज़िम्मेदारी है इस फ़ैसले का सम्मान करना, इससे अच्छे फ़ैसले की उम्मीद की भी नहीं जा सकती थी.

इस्मत ज़ैदी said...

बिल्कुल सही कहा आपने ,
बहुत ख़ूब!
इन्शा अल्लाह ज़रूर हिफ़ाज़त होगी ,
अदालत का ये फ़ैसला हमारी यक्जह्ती को ताक़त बख़्श रहा है
इस एहसास को बहुत ख़ूबसूरती से अश’आर में ढाला है आप ने

kshama said...

Ek aur baat.."us mulk ki asmat ko koyi chhoo nahi sakta jis mulk kee nigehbaan hain aap jaisi aankhen!" Aur irade!

PADMSINGH said...

आदाब !
पीढ़ियों के लिए सजीदगी ताइन्दा रहे
ताकि इंसाँ के लिए इंसानियत जिंदा रहे

ali said...

सही है !

निर्मला कपिला said...

बहुत सही बात कही आपने । दो शेर आपकी नज़र--
देश मे हो अमन-ओ-चैन सा अब
बस फसादों से सदा डरता रहा हूँ
अब न लड मंदिर या मस्ज़िद पर लडाई
है अहम इन्सानियत कहता रहा हूँ
धन्यवाद।

' मिसिर' said...

फिर अँधेरे ने सर उठाया है ,
लौ चरागों और तेज़ करो !

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

ब्लॉग के एक वर्ष का होने के लिए बधाई ...

फैसले की हिफाज़त करना हर हिन्दुस्तानी का धर्म है ..बहुत सुन्दर

shikha varshney said...

वाह ..एक जिम्मेदार और संवेदनशील सोच..सलाम आपके ख्यालों को.

दिगम्बर नासवा said...

आमीन ....
नये रास्ते का द्वार नज़र आए तो आगे ज़रूर जाना चाहिए ....
बहुत अच्छा लिखा है शाहिद साहब ....

दिगम्बर नासवा said...

ब्लॉग जगत में एक वर्ष पूरा होने पर बधाई ....

हरकीरत ' हीर' said...

शाहिद जी आपकी इन भवनों से आप पर फक्र हो रहा है ......

शुक्रिया .....!!

MUFLIS said...

a a m e e n !

Udan Tashtari said...

एक वर्ष पूरा होने पर बधाई ...चार पंक्तियां..गागर में सागर...


सफर चलता रहे...अनेक शुभकामनाएँ.

Mrs. Asha Joglekar said...

इस फैसले की मिल कर हिफाजत करेंगे हम ।
बहुत सही कहा ।

"अर्श" said...

aameen .......


arsh

रचना दीक्षित said...

ब्लॉग जगत में एक वर्ष पूरा होने पर बधाई ....
आज जो नया द्वार खुला है आओ उसमें जा कर देखें शायद मंजिल का रास्ता मिल जाये

Babli said...

बहुत सुन्दरता से आपने प्रस्तुत किया है! बिल्कुल सही कहा है आपने! मैं आपकी बातों से पूरी तरह सहमत हूँ! ब्लॉग के एक वर्ष पूरे होने पर आपको हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें!

manu said...

बाकी कमेंतस से सहमत...

सुमन'मीत' said...

बहुत सुन्दर........

kamalahindi said...

shahid ji. Aapke dwara diye gaye email pata per email nahin le raha hai. Aap kripya mujhe email karne ka kasht karengen. Atyant hin aadar ke saath, Aapka hin - jeetendra jeet